अपडेट

चीन में भी योग दिवस की धूम, हज़ारों लोगों ने किया योगाभ्यास..

हजारों लोगों ने किया विभिन्न जगहों पर योगाभ्यास। चीन-भारत के बीच पुल बन रहा है योग। भारतीय राजदूत गौतम बंबावाले और योग गुरु मोहन भंडारी भी थे मौजूद।

बीजिंग। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस दुनिया के कोने-कोने में मनाया जा रहा है। इसी कड़ी में चीन के विभिन्न शहरों में भी चौथे योग दिवस पर हज़ारों योग प्रेमियों ने योगाभ्यास किया। राजधानी पेइचिंग के रीथान पार्क में भारतीय दूतावास और योगी योगा संस्थान के तत्वावधान में लगभग पाँच सौ लोगों ने लगभग एक घंटे तक योग किया।

जिसमें चीन स्थित भारत के राजदूत गौतम बंबावाले समेत कई राजनयिक अधिकारी भी मौजूद थे। योग गुरू मोहन भंडारी के नेतृत्व में योग शिक्षकों ने योग के प्रति लगाव रखने वाले लोगों को योग कराया और योग के महत्व को समझाया।

इस दौरान गौतम बंबावाले ने कहा कि योग के माध्यम से विश्व में भारत की साख बढ़ रही है। चीन के कई शहरों में इन दिनों योग दिवस को लेकर आयोजन किए जा रहे हैं। इस तरह योग चीन और भारत को जोड़ने में अहम भूमिका निभा रहा है।

इस मौके पर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संदेश भी वीडियो के जरिए जारी किया गया, जिसमें उन्होंने अधिक से अधिक लोगों से योग करने की अपील की। साथ ही कहा कि योग न केवल हमें स्वस्थ बनाता है बल्कि यह खुद और दूसरे लोगों को समझने में मदद करता है।

यहां बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में योग को विशेष दिवस पर मनाए जाने का आह्वान किया था। इसके बाद 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र में 177 सदस्यों ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी। इस तरह भारत संयुक्त राष्ट्र जैसे बड़े मंच में भारत ने नेतृत्वकारी भूमिका निभाई। इसके बाद 21 जून 2015 को पहली बार में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *