sunanda-pushkar-death-case-shashi-tharoor-summoned-by-patiala-house-court-on-july-7
अपडेट

सुनंदा पुष्कर मौत मामला: शशि थरूर को समन, 7 जुलाई को होना होगा कोर्ट में पेश

नई दिल्ली। सुनंदा पुष्कर मौत मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने पुलिस की चार्जशीट पर संज्ञान लिया है। हाईकोर्ट ने समन जारी कर शशि थरूर को 7 जुलाई को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया है। अब शशि थरूर पर बतौर आरोपी ट्रायल चलेगा। थरूर पर आत्महत्या के लिए उकसाने यानी आईपीसी 306 और वैवाहिक जीवन में क्रूरता यानी 489ए का आरोप है।

कोर्ट ने कहा कि शशि थरूर के खिलाफ इन धाराओं में केस चलाने के लिए पर्याप्त सबूत हैं। भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी इस मामले में विजिलेंस रिपोर्ट मांग रहे हैं। स्वामी ने कोर्ट में सीआरपीसी 302 के लिए अर्जी लगाई है। स्वामी का कहना है कि जब क्राइम हुआ था उस समय एविडेंस मिटाए गए। एक साल बाद मामले में एफआईआर दर्ज हुई। दिल्ली पुलिस ने सही तरीके से जांच नहीं की।

सुनंदा की मौत के चार साल बाद 14 मई को दिल्ली पुलिस की एसआईटी ने पटियाला हाउस कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी। चार्जशीट के मुताबिक अभियोजन पक्ष के वकील ने कोर्ट में कहा कि सुनंदा की शादी को 3 साल 3 महीने हुए थे और दोनों की यह तीसरी शादी थी। दोनों के बीच अक्सर झगड़ा होता रहता था। एयरपोर्ट पर भी उनके बीच झगड़ा हुआ था। झगड़े के बारे में सुनंदा ने अपने दोस्तों को भी बताया था। गवाहों ने बताया कि वह डिप्रेशन के चलते अस्पताल में भर्ती हुई थी। उनके पास से एलपरेक्स की 27 टेबलेट मिली थी। उन्होंने कितनी टेबलेट खाई पता नहीं, मौत एलपरेक्स के जहर से हुई थी। सुनंदा ने मौत से पहले शशि थरूर को 2 मेल भेजे थे जिसमें लिखा था, वह मरना चाहती हैं।

सुनंदा को शक था कि शशि थरूर के किसी और रिश्ते हैं इसलिए वह डिप्रेशन में थी। शशि थरूर उनका फोन भी नहीं उठा रहे थे। इसकी जानकारी उन्होंने अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर भी शेयर की थी। वह एंटी डिप्रेशन की दवाएं भी ले रही थीं। मौत से पहले सुनंदा ने जो बातें सोशल मीडिया में शेयर की हैं। पुलिस ने उनको मौत से पहले का बयान माना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *