अपडेट

पंजाब में ड्र्ग्स तस्करों को हो सकती है फांसी!

राज्य कैबिनेट की बैठक में लिया गया फैसला, अब केंद्र को भेजी जाएगी सिफारिश। नशे और ड्रग्स ने पंजाब की युवा पीढ़ी को किया बर्बाद।

 चंडीगढ़। ड्रग्स और नशे से जूझ रहे पंजाब में ड्र्ग्स का कारोबार करने वालों को फांसी की सज़ा हो सकती है। अगर केंद्र ने पंजाब सरकार की सिफारिश मान ली तो ऐसा संभव हो सकेगा। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला लिया गया। राज्य सरकार जल्द ही मोदी सरकार के समक्ष यह सिफारिश करेगी। मुख्यमंत्री ने इस बारे में जानकारी दी।

अमरिंदर सिंह ने कहा कि मादक पदार्थ की तस्करी पूरी पीढ़ी को बर्बाद कर रही है और इसके लिए मिसाल लायक सजा होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने पंजाब कैबिनेट की बैठक के बाद ट्वीट करते हुए कहा, ‘मेरी सरकार ने ड्रग तस्करी के लिए मृत्युदंड की सिफारिश करने का निर्णय लिया है। इस सिफारिश को केंद्र सरकार के पास भेजा जा रहा है। यहां बता दें कि मादक पदार्थों की तस्करी पूरी पीढ़ी को खत्म कर रही है। ऐसे में इसके लिए इस तरह की सज़ा दिए जाने की जरूरत है। मैं मादक पदार्थ मुक्त पंजाब के प्रति अपनी कटिबद्धता पर अडिग हूं।
इसके साथ ही मंत्रिमंडल की बैठक में मादक पदार्थों की तस्करी के मामलों की जांच की भी समीक्षा की गई और इस पर रोक लगाने के तौर-तरीकों एवं उपायों पर भी विचार-विमर्श हुआ। मुख्यमंत्री ने खासकर हाल ही में ड्रग की ओवरडोज से मौत की घटनाएं बढ़ने के मामले में इस मुद्दे पर यह बैठक बुलाई थी। मादक पदार्थों की तस्करी को लेकर अमरिंदर सरकार विपक्षी आप और शिरोमणि अकाली दल के निशाने पर है।

यहां बता दें कि पंजाब की इस समस्या को लेकर उड़ता पंजाब फिल्म भी बनाई गयी थी। दरअसल हाल के कई वर्षों में पंजाब में ड्रग्स की चपेट में आकर युवा पीढ़ी बर्बाद हो चुकी है। आलम यह है कि लगभग हर घर का युवा ड्रग्स और नशे की गिरफ्त में है। जिसके चलते उनका जीवन बर्बाद हो रहा है।

 ट्वीट..

Capt.Amarinder Singh

✔@capt_amarinder

My govt has decided to recommend the death penalty for drug peddling/smuggling. The recommendation is being forwarded to the Union government. Since drug peddling is destroying entire generations, it deserves exemplary punishment. I stand by my commitment for a drug free Punjab.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *