अपडेट

काले धन के मुद्दे पर घिरी मोदी सरकार!

स्विस बैंक में बढ़ गया भारतीयों का धन, हुई 50 फीसदी की बढ़ोतरी। चार साल बाद भी भाजपा सरकार काला धन वापस लाने में रही नाकाम। सरकार का दावा स्विस बैंक में इतना ज्यादा काला धन नहीं..

नई दिल्ली। पिछले लोकसभा चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी और भाजपा ने काले धन के मुद्दे पर कांग्रेस और यूपीए सरकार की जमकर खिंचाई की थी। विपक्ष सरकार के खिलाफ इस मसले पर जबरदस्त अभियान चलाया था। इतना ही नहीं अपने हर भाषण में नरेंद्र मोदी सत्ता में आने पर स्विस बैंक से भारतीयों का काला धन वापस लाने का दावा करते थे। लेकिन मोदी सरकार इतने वक्त में भी काले धन को स्वदेश लाने की दिशा में कुछ ठोस कदम नहीं उठा सकी है। अब हाल में आयी एक रिपोर्ट ने सरकार को पूरी तरह कटघरे में खड़ा कर दिया है। इसके मुताबिक स्विस बैंक में भारतीयों के पैसे में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गयी है। पहले काला धन वापस लाने को हल्ला मचाने वाली सरकार के प्रतिनिधि बचने के लिए कहने लगे कि स्विस बैंक में जमा भारतीयों के धन में समूची राशि काला धन नहीं है।

उधर स्विस नेशनल बैंक के ताजा आंकड़ों के मुताबिक साल 2017 में भारतीय नागरिकों द्वारा जमा कराए गए धन में 50 प्रतिशत का इजाफा हुआ। इस दौरान भारतीयों का स्विस बैंक में 7 हजार करोड़ रुपए जमा था। हालांकि इससे पहले लगातार तीन साल में उक्त बैंक में भारतीयों के जमा पैसे में कमी दर्ज की गयी थी।

इन आंकड़ों के सामने आने के बाद मोदी सरकार की जबरदस्त आलोचना हो रही है। विपक्षी दल कांग्रेस ने सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि मोदी के पीएम बनने से पहले जो धन काला हुआ करता था, वो 49 महीनों में सफेद हो गया है। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, मई 2014 से पहले स्विस बैंकों में जमा धन काला था। मोदी सरकार के 49 महीनों में यह सफेद हो गया है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *