अपडेट

बेरोजगार व्यक्ति ने परिवार को जहर खिलाया, खुद भी खाया, चार की मौत

काशीपुर। कर्ज और बेरोजगारी से परेशान व्यक्ति ने जबरन तीन बेटियों और पत्नी को जहर की गोलियां खिला दी। इसके बाद खुद भी जहर खा लिया। एक बेटी ने जहर थूक दिया और बेटा बाप का हाथ झटक कर भाग निकला। जब वह मकान मालिक के बेटे के साथ कमरे पर लौटा तो तब तक पिता और बड़ी बहन की मौत हो चुकी थी। मां और बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इलाज के दौरान उनकी भी मौत हो गयी।
कानपुर के काकादेव एन ब्लाक निवासी 42 वर्षीय अंशुमान सिंह दो साल पहले परिवार के साथ यहां आकर कुंडा थाने के ग्राम हरियावाला में रहने लगा। शुरुआत में पति-पत्नी दोनों यहां अलग-अलग फैक्टी में काम करते थे। इन दिनों उनके पास काम नहीं था।
शनिवार सुबह अंशुमान के घर पर खाने के लिए कुछ नहीं था और गैस का सिलेंडर भी खत्म हुआ था। कमरे का किराया भी दो माह से नहीं दिया था। अंशुमान रुपयों का इंतजाम करने की बात कहकर सुबह घर से निकला था। करीब 12 बजे घर लौटा तो उसने पत्नी सरिता (37 ) बेटी दिव्यांशी (15) हिमांशी (13) और आर्या (10) को जबरन जहर खिला दिया। बेटा रुद्रप्रताप (14) किसी तरह भाग निकला जबकि आर्या ने जहर थूक कर जान बचाई। रुद्रप्रताप की सूचना पर पड़ोसी कमरे में गए तो अंशुमान और दिव्यांशी की लाश पड़ी थी जबकि सरिता और हिमांशी की हालत गंभीर थी। मां और बेटी को 108 एंबुलेंस से सरकारी अस्पताल पहुंचाया गया। इलाज के दौरान उनकी भी मौत हो गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *