अपडेट संस्कृति

शंघाई के ‘दीवाने’ हुए इंडियन यूथ, 7 दिनों के चीन दौरे पर आए युवा!

शंघाई। चीन की यात्रा कर रहे भारतीय युवाओं के दल ने रविवार रात और सोमवार को चीन की आर्थिक राजधानी शंघाई की आधुनिकता को क़रीब से देखा। भारत के ये प्रतिनिधि शांगहाई के विकास को देखकर बहुत अभिभूत हुए। भारत के तमाम क्षेत्रों से आए युवा शंघाई के मोहजाल में फँस गए हैं, कल रात उन्हें अपने देश वापस जाना है, लेकिन वे जाने के इच्छुक नहीं हैं। क्योंकि शंघाई में शॉपिंग, मनोरंजन के कई साधन मौजूद हैं, जो युवाओं को बहुत आकर्षित करते हैं। भारत से आए इन प्रतिनिधियों के बारे में भी ऐसा कहा जा सकता है। युवाओं ने सीआरआइ के साथ बातचीत में कहा कि उन्होंने शंघाई के बारे में जितना सुना था, अपनी आँखों से देखने के बाद अहसास हुआ कि यह उससे भी अधिक शानदार है।

युवा दल को शंघाई के 468 मीटर ऊँचे पर्ल रेडियो-टीवी टावर पर चढ़ने का शानदार अवसर मिला। युवाओं ने 263 मीटर ऊँची गैलरी पर पहुँचकर तमाम गगनचुंबी इमारतों और नदी का बेहतरीन और अद्भुत नज़ारा देखा। वहाँ पर उन्होंने ख़ूब मस्ती की और तस्वीरों में ख़ूबसूरत दृश्य को क़ैद किया। वहीं 259 मीटर ऊँचे स्थान पर बनी पारदर्शी शीशे की गैलरी से पूरे इलाक़े को देखा। इतनी ऊँची जगह से नीचे झाँकना सभी के लिए बेहद रोमांचक अनुभव था। इसके अलावा भारत से आए दल ने दुनिया के पहले कोकाकोला रेस्टौरेंट में लंच भी किया।

शंघाई भ्रमण के दौरान इन युवाओं को हाईटेक इनवेशन पार्क भी ले जाया गया। जहाँ पर उन्होंने चीन में तरह-तरह के नवाचार सम्बंधी काम कर रही कम्पनियों द्वारा किए जा रहे तकनीकी नवाचार की व्यापक जानकारी हासिल की।

हालाँकि युवाओं के दल के अन्य सौ सदस्य भी खुनमिंग और कुआंगचो का दौरा करने के बाद कल भारत के लिए रवाना हो जाएँगे। इस तरह दो सौ प्रतिनिधियों की सात दिवसीय यात्रा सफल और बहुत कुछ सीखने वाली रही।

अगर आप भी इस यात्रा या दौरे के बारे कुछ लिखना चाहते हैं तो, reportring@gmail.com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *