अपडेट स्पोर्ट्स

विश्व कप में अर्जेंटीना की करारी हार, करोड़ों फैंस हुए निराश!

क्रोएशिया ने अर्जेंटीना को 3-0 से हराकर प्री-क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह। मंगलवार को अपना अंतिम ग्रुप मैच नाइजीरिया के खिलाफ खेलेगी अर्जेंटीना। अगले दौर में पहुंचने की कम ही है उम्मीद। स्टार फारवर्ड खिलाड़ी लिनोयल मेसी ने किया बेहद निराश।

नई दिल्ली। पिछले विश्व कप की उप विजेता और सितारों से सजी अर्जेंटीना को क्रोएशिया के हाथों 0-3 से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी। इसके साथ ही खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही अर्जेंटीना पर इस विश्व कप से बाहर होने का खतरा मंडराने लगा है। जबकि क्रोएशिया पिछले बीस वर्षों में पहली बार प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रही है। अब तक खेले गए दो मुकाबलों के बाद अर्जेंटीना का सिर्फ एक अंक के साथ तीसरे स्थान पर है। ग्रुप डी के पहले मैच में भी अर्जेंटीना आइसलैंड को नहीं हरा सकी। स्टार खिलाड़ी और फारवर्ड लियोनल मैसी से अर्जेंटीना को काफी उम्मीदें थी, लेकिन उन्होंने इस वर्ल्ड कप में अपने फैंस को निराश किया है।

अर्जेंटीना के लिए अगले राउंड में पहुंचना बहुत मुश्किल है। अर्जेंटीना तभी इस विश्व कप में बने रह सकता है, जबकि क्रोएशिया आइसलैंड को हराए और नाइजारिया भी आइसलैंड को शिकस्त दे। इसके साथ ही अर्जेंटीना को भी मंगलवार को नाइजीरिया के खिलाफ अपने आखिरी मुकाबले में जीत दर्ज करनी होगी। अगर ऐसा न हुआ तो अर्जेंटीना और इस टीम के करोड़ों प्रशंसकों को निराशा ही हाथ लगेगी।

अर्जेंटीना ने अपने दूसरे मुकाबले में शुरूआत तो तेज की लेकिन क्रोएशिया के डिफेंस के सामने उसकी एक न चली। इसी दौरान क्रोएशिया ने भी आक्रमण की कोशिश जारी रखी, और मिडफील्डल इवान पेरिसिक ने चौथे मिनट में ही गोल करने की जबरदस्त कोशिश की। लेकिन अर्जेंटीना के गोलकीपर ने गोल नहीं होने दिया। उम्मीदों के भारी बोझ तले खेल रहे लियोनल मेसी का प्रदर्शन बेहद निराश करने वाला रहा, उन्होंने जहां आइसलैंड के खिलाफ बड़ी गलती की। वहीं क्रोएशिया के साथ हुए मैच में भी कुछ नहीं कर सके। क्रोएशिया के खिलाफ उन्हें 12वें मिनट में बॉक्स के भीतर पास मिला। लेकिन मेसी गेंद को अपने नियंत्रण में नहीं कर सके। हालांकि इसके बाद भी अर्जेंटीना को गोल करने के मौके मिले, जिन्हें उनके खिलाड़ी भुना नहीं सके। मैच के 30वें मिनट में अर्जेंटीना के मिडफील्डर एंजो पेरेज के पास भी गोल दागने का शानदार अवसर था। लेकिन वह भी गेंद को गोल पोस्ट में नहीं पहुंचा सके।

हालांकि क्रोएशिया की ओर से भी गोल करने का प्रयास होता रहा। इस तरह पहले हाफ में कोई भी टीम गोल नहीं कर सका। मुकाबला बराबरी पर रहा। लेकिन दूसरे हाफ में तो मानो क्रोएशियाई ठान कर आए थे कि उन्हें गोल करने हैं। इस तरह 53वें मिनट में अर्जेंटीना के गोलकीपर काबालेरो ने गलती से गेंद हवा में उछाल दी। बस क्या था यही से क्रोएशिया को खाता खोलने का मौका मिल गया। और उसने 1-0 की बढ़त हासिल कर ली।

एक गोल से पिछड़ी अर्जेंटीना ने बराबरी करने की कोशिश की और मिडफील्डर मेजा और मेसी को गोल करने के अवसर मिले, लेकिन वे गोल नहीं कर सके। लेकिन एक गोल से आगे चल रही क्रोएशिया का उस समय खुशी का ठिकाना नहीं रहा, जब रियल मेड्रिड के लिए खेलने वाले लुका मोड्रिक ने 80वें मिनट में 25 गज की दूरी से गोल कर दिया। अर्जेंटीना की बची उम्मीदों पर इंजरी टाइम में मिडफील्डर इवान रेकिटिक ने गोल कर पानी फेर दिया और क्रोएशिया की 3-0 की बढ़त के साथ जीत तय हो गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *